Adsense

क्या आपका बच्चा मोबाइल फ़ोन से चिपका रहता है? | Bachho ko mobile se nuksan

बच्चों के लिए फोन इस्तेमाल करना हो सकता है खतरनाक पढ़िए पूरी जानकारी इस आर्टिकल में|

आज हर घर मे स्मार्ट फ़ोन होना बहुत ही आम बात है। हर किसी का अपना पर्सनल फ़ोन रखना एक फैशन बन गया है, आधुनिकता की इस अंधी दौड़ में हम ये भूलते जा रहे कि हम अपने सामाजिक और पारिवारिक क्षणों को मोबाइल फ़ोन के इस्तेमाल ने हमसे छीन लिया है। बच्चों के लिए फोन इस्तेमाल करना हो सकता है खतरनाक|

बच्चों के लिए फोन इस्तेमाल करना हो सकता है खतरनाक

आजकल घरों में परिदृश्य इस प्रकार का हो गया है कि लोग अपने परिवार के सदस्यों से ज्यादा समय अपने मोबाइल के साथ बिताते हैं। कई बार तो साथ बैठे रहने के बावजूद भी लोग अपने मोबाइल में खोये रहते हैं। इस परिदृश्य का सबसे ज्यादा प्रभाव घर के बच्चों पर पड़ता है क्योंकि बच्चे अपने आस पास के माहौल में हो रही घटनाओं से ही सीखते हैं। और मोबाइल की ओर आकर्षित हो जाते हैं। हाल के वर्षों में, हमारे शरीर पर  सेल फोन विकिरण के प्रभाव के बारे में कई रिसर्च हुई हैं। विशेषज्ञों द्वारा आयोजित एक अध्ययन में जब उन्होंने मस्तिष्क गतिविधि पर मोबाइल फोन के प्रभाव की जांच की।


बच्चों के लिए मोबाइल फोन के संभावित स्वास्थ्य खतरे निम्नानुसार हैं:

  • आंखे ड्राई हो सकती हैं जिससे आंखों की समस्या हो सकती हैं|
  • बच्चे में कॉन्सनट्रेशन की कमी हो सकती है।
  • बच्चे में चिड़चिड़ापन और उग्र स्वभाव दिखाई देता ह
  • बच्चे का मानसिक विकास प्रभावित होता है।
  • मोबाइल ज्यादा गाने या ज्यादा वीडियो देखने वाले बच्चे देर से बोलना शुरू करते हैं|
  • सीखने की ललक घटती है और मोटापा बढ़ता है।
  • फोन में अनेको प्रकार के बैक्टीरिया हो सकते हैं जिससे बच्चे को स्वास्थ्य सम्बंधित परेशानी हो सकती हैं
इसलिए अगर आपके बच्चे मोबाइल, टीवी या इंटरनेट पर हद से ज्यादा समय बिता रहे हैं तो आपके लिए सावधान होने का समय आ गया हैं। तमाम एक्सपर्ट्स का कहना है कि बच्चों को इन डिजिटल गैजेट्स से जितना दूर रखें, उतना बेहतर है। इस समस्या से निजात पाने के लिए आप अपनी दिनचर्या में थोड़ा बदलाव करके आप अपने बच्चों का बचपन और भविष्य सुधार सकते हैं।


बच्चों की लिए मोबाइल फोन से सुरक्षा निम्लिखित रूप से की जा सकती है :

  • यदि आपका बच्चा 16 साल से कम है तो उसे सेल फोन न दें|
  • जितना अधिक हो सके तो बच्चों के सामने फोन के इस्तेमाल से बचे।
  • आप बच्चे को उसकी रुचि के मुताबिक उसे डांस क्लास, स्पोर्ट क्लास, म्यूजिक क्लास, पेंटिंग क्लास या अन्य कोई एक्टिविटी ज्वॉइन करवा सकते हैं।
  • उन्हें घर से बाहर ले जाये और शारिरिक खेलों में उनकी रुचि बढाएं।
  • बच्चों को घर के रोजमर्रा के कामों में कुछ ना कुछ योगदान लें इससे उन्हें अपनी जिम्मेदारियों का भी अहसास होगा और चीजों का महत्व भी पता चलेगा।
अगर आपको इस आर्टिकल में दी गयी जानकारी उपयोगी लगी या आप इस जानकारी से जुड़ा कोई सवाल पूछना चाहते हैं तो नीचे दिए कमेंट बॉक्स में अपना सवाल कर सकते हैं हम आपके सवाल और सुझावों का स्वागत करते हैं।

Perfect Mantra Browse the latest technology news, tips and tricks, mobile reviews, latest gadget news, trending apps, tablets and social media breaking news. Join the Perfect Mantras to get tips and latest news from super fast around the world.

Post a Comment

0 Comments